Posts

Showing posts from 2015

बवाल पार्ट-2

Image
बवाल  पार्ट-2

बवाल                                 पार्ट-2 


मार के डर से जशवीरमीणा ने अपने फोन से कई फोन किये और बोला पता नहीं तभी इंस्पेक्टर सावन ने गुस्से में एक थप्पड़ जड़ दिया वो किर्सी से गिरा पूरी कुर्सी टूट गयी तब इंस्पेक्टर सावन ने कहा,"मैं बोला था कि मार सह नही पाओगे अब जल्दी दीमाग में हर्पिक घोल गंदगीं मिटा और जल्दी सोच |मार के डर से जशवीरमणि फिर से कॉल करने में जुट गया और कॉफी मशक्कत के बाद पता चला कि वो इस समय दिल्ली के पाँच सितारा होटल में किसीबड़े मॉडल के साथ डेट पर है फिर क्या था इंस्पेक्टर सावन अपने एक दोस्त को जो दिल्ली पुलिस में था उससे बात की तो पता चला अब वो कोकीन की रानी रेड वाइन के नाम से फेमस है फिर हम ने सावन के उस दोस्त की मदद से हम लोग उस होटल में पहुँचे और दिल्ली पुलिस की एक टीम ने रेड वाइन को उसी होटल के रूम में धर दबोचा और फिर हमने रेडवाइन से पूछा कि डी.एम ईरा सिंघल को कहाँ रखा है तुमने? जो भी पता हो जल्दी बोलो? रेड वाइन ने कहा, "मैं कुछ नहीं जानती?" तो दिल्ली पुलिस ने कहा, "इस चेहरे पर बहुत नाज है तुझे सोच अगर बिगड़ गया तो सोच ले फिर …

एक कहानी .....बवाल.......पार्ट-1

Image
बवाल  पार्ट -1                 .....बवाल.....
आज उत्तर प्रदेश के भिमारी जिले में मेरी पहली पोष्टिंग भिमारी जिले की डी.एम गौरी संघाल के रूप में,मुझे मेरा ऑफिस मिला सामने मेरी कुर्सी यह देख मैं मन ही मन बहुत खुश हुई |आज डी.एम की कुर्सी पर बैठ ऐसा लगा मानो जिंदगी की सारी थकान मिट गयी| बड़ी मुसीबत झेल के यहाँ तक पहुँची थी मैं |ऑफिस में सभी लोगों द्वारा मिल रहा सम्मान देख मैं फूली न समा रही थी अाज खुद की किस्मत पर भी खुद को जलन सी हो जाये बस खुश ही खुश थी मैं.. कुछ दिनों में हमने महसूस किया कि यहाँ सभी मुझे अजीब नज़रों से क्यों देखते हैं...पता नहीं ये कुछ अजीब था| मैंने सोचा कि दुनिया कहाँ की कहाँ पहुँच गयी और ये लोग यहीं टिके हैं जो आज भी महिला अघिकारी को इस तरह धूरतें हैं..ताज्जुब है.इन लोगों का कुछ नही हो सकता... मैंने ऑफिस में पूरे जिले के भ्रमण की इच्छा जाहिर की जाहिर की..कि मैं जिले के गाँव - कस्बों को नजदीक से देखना चाहतीं हूँ फिर मैं उन लोगों को उनकी परेशानियों से निजात दिलाने की पूरी कोशिस करना चाहूँगी| अॉफिस के लोग यह सुन कर खुश थे पर चेहरा कुछ और ही बोलता था उनका..मैने निश्चय किय…

बात जो सीधी दिल पर लगे.......

Image
Wrt.by Akanksha saxena District- Auraiya State -Uttar pradesh Date  - 6/09/2015


हमारी सबसे लोकप्रिय रचना पत्रिका में प्रकाशित....

Image

!! राधे भजन !!

Image
राधेरानी बनी हैं कोतवाल........... .......................................

राधे रानी बनी है थानेदार कन्हैया जी मुजरिम बने वृंदावन में लगी है कचहरी...लगी है कचहरी .. बलदाऊ जी बने हैं थानेदार......कन्हैया जी मुजरिम बने
दौड़ के आयीं सखियाँ सारी...सखियाँ सारी.. देख के हो गयीं सब हैरान कि काहे कान्हा मुजरिम बने हथकड़ियों में आज श्याम बँधे हैं.... फिर भी खड़े मुस्काय रहें हैं..... ऐसो देखो ना अचरज महान  कि काहे कान्हा मुजरिम बने........
बरसाने में लगी है कचहरी ..लगी है कचहरी.... सुदामा जी बहस कर रहें हैं .. उत्पात श्याम के ना कम हो रहैं हैं.. अब बहस में गये सब हार कि काहे कान्हा मुजरिम बने....
देखें सखियाँ देख रहे सब नर-नारी देखन आये हैं देवता हजार कि काहे कान्हा मुजरिम बने... राधे रानी ने पूछो है सवाल बताओ कान्हा तुम काहे मुजरिम बने
नटखट श्याम प्रेम से बोले राधे प्रेम ही मेरो है अपराध हर जन्म तेरो मुजरिम रहूँ                 तू मेरी अदालत करो मेरा फैसला
सदा रहना तू मेरी कोतवाल
 मैं सदा तेरा मुजरिम रहूँ

राधेरानी बनी है
कोतवाल कन्हैयाजी मुजरिम बनें..



......स्वहस्तरचित भजन रचना..... आकांक्षा…